Category Archives: Editorial

Loktantra ke chaar stambh

Media & Politics plays an effective role in Indian society. These days public is being valueless because every powerful hand is playing with the non-reactive behavior of Indian public. This article contains some naked facts of media and politics. Continue reading

Hindi Kavita Aur Sarkar ka Virodh

After sudden decision of demonetization in India by PM Narendra Modi, various versions of public opinion were there on social media. But unfortunately some blind supporters of BJP & PM started abusing those writers who expressed a negative view about the PM’s policy. This was an attack on freedom of speech as well as on democracy. This article is a documentation of those historical facts where poets challenged the government policies through the poetry. Continue reading

Occasions of Kavi Sammelans

एक समय था जब Kavi-sammelan साल मे एकाध बार कुछ ख़ास अवसरों पर ही आयोजित किये जाते थे। आयोजक होती थीं साहित्यिक संस्थाएँ। उसके बाद सामाजिक संस्थाओं ने भी कवि सम्मेलन आयोजित कराने शुरू किए। लेकिन अब जबकि संचार का … Continue reading

Hasya Yoga

On the occasion of first INTERNATIONAL YOG DIWAS here we are presenting some wallpapers which contains some innovative yogasans based on day to day behavior of prominent HASYA KAVIs of INDIA. These Asans seems easy and funny but actually these … Continue reading

Tagged , , , , |

Hasya Kavi Sammelan in Family Functions

एक दौर था, जब Kavi Sammelan केवल साहित्यिक संस्थाओं द्वारा किसी सार्वजनिक स्थल पर ही कराए जाते थे। लेकिन पिछले कुछ दशकों में कवि-सम्मेलनों ने घर-परिवार में Organize होने वाले Wedding Functions, Anniversery, Birthday और यहाँ तक कि General Get … Continue reading

World Laughter Day Quotes

World Laughter Day is an occasion to measure our humour graph for everyone. Here we are presenting some memorable quotations on this special occasion. These wallpapers contains quotations of Paul E Mcghee, Oscer Wilde, William Shakespeare, Mark Twain, George RR Martin, … Continue reading

Opportunities for budding poets

काव्य गोष्ठी : नई प्रतिभाओं का निर्माण स्थल Hindi के Kavi Sammelan बहुत तेज़ी से अपना स्वरूप बदल रहे हैं। आर्थिक पक्ष से लेकर प्रस्तुति तक का पक्ष इतना Glamorize हो गया है कि नई generation को बहुत effectively अपनी ओर attract कर रहा … Continue reading

HASYA KAVI VOTING APPEAL

Holi Kavi Sammelan

Holi एक ऐसा Festival है जिसके बहाने लगभग पूरे समाज का Get-together हो जाता है। छोटी-छोटी संस्थाओं से लेकर बड़े-बड़े Corporate तक Holi Milan के समारोह आयोजित किये जाते हैं। इन सभी programmes में Hasya Kavi Sammelan एक most suitable … Continue reading

Hasya Kavi Sammelan

भागती-दौड़ती ज़िंदगी में ठहाकों की गुंज़ाइश बनाना थोड़ा मुश्क़िल तो है, लेकिन इस मुश्क़िल काम को करने के बाद एहसास होता है कि ज़िंदगी उतने ही पलों का नाम है, जितने हँस कर गुज़ार दिये। शायद यही कारण है कि … Continue reading

Occasions of Hasya Kavi Sammelan

हँसने का कोई मौसम नहीं होता। जहाँ चार यार मिल जाएँ वहीं रात हो गुलज़ार- की तर्ज़ पर अब हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन कराने वाले लोगों में एक बड़ा वर्ग ऐसा है जो इस आयोजन के लिये अवसरों का … Continue reading

Atal Bihari Vajpayee

भारतीय राजनीति का साहित्य के साथ सदैव गहरा संबंध रहा है। Bal Gangadhar Tilak, Mohandas Karamchand Gandhi, Bhagat Singh और Jawaharlal Nehru आदि अनेक शख़्सियत ऐसी हैं, जो एक कुशल राजनीतिज्ञ होने के साथ-साथ बेहतरीन लेखक भी थे। इसी शृंखला … Continue reading

Kavi Sammelan : Glamour & Corporate

हिंदी कवि सम्मेलनों के बदलते स्वरूप में आयोजकों के बदलते चेहरे का बड़ा योगदान है। पहले कवि सम्मेलन का सामान्य अर्थ था किसी गली-नुक्कड़ पर टैंट या पांडाल लगाकर मंच बनाना, मंच पर मसनद, एक माइक, सात-आठ से लेकर बीस-बाइस … Continue reading

Kavi Sammelan & Media

यद्यपि हिंदी कवि सम्मेलन संचार के परंपरागत माध्यमों में गणित किये जाते हैं, तथापि प्रचलित समाचार माध्यमों और कवि सम्मेलनों के मध्य एक शीत युद्ध सा चलता रहा है। एक समय था जब हिंदी के सभी प्रमुख समाचार-पत्र कवि-सम्मेलनों और … Continue reading

Tagged , , , |

Kavi Sammelan

हिंदी कविता और हिंदी कवि सम्मेलनों का कब-क्या स्वरूप रहा- इस बहस से कहीं अधिक महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि कवि सम्मेलन हर समय में जन भावना की आवाज़ रहे हैं। चौबीस घंटे के News Channels से लेकर अख़बारों और … Continue reading

Tagged , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |