Loktantra ke chaar stambh

लोकतंत्र के चार स्तम्भ : चिराग़ जैन भारतीय लोकतंत्र के चार स्तम्भ हैं। इनमें से किसी भी स्तम्भ से चिपक कर

Read more

Vikas ka Bachcha

चिराग़ जैन Bihar में नये मुख्यमंत्री ने कहा है कि वे विकास को सबसे ऊपर रखेंगे। Delhi के मुख्यमंत्री ने

Read more

Chidiya : Ritu Goel

मैं और मेरी चिड़िया : ॠतु गोयल एक थी चिड़िया एक थी मैं मैं थी चिड़िया या चिड़िया थी मैं

Read more

Suraj : Khushbu Sharma

सूरज : ख़ुशबू शर्मा ढल गया दे के रोशनी सूरज कह गया बात इक नई सूरज एक्टिंग डूबने की करता

Read more

Patrakaar : Chirag Jain

पत्रकार : चिराग़ जैन छाप-छूप कर अख़बार एक सनसनीबाज़ पत्रकार रात तीन बजे घर आया तकिये में मुँह छुपाया और

Read more

SONE KI BEEMARI : SHAMBHU SHIKHAR

सोने की बीमारी: शंभू शिखर आजकल हम अपने-आप से त्रस्त हैं सोने की भयंकर बीमारी से ग्रस्त हैं ना मौका

Read more

Vikas : Surendra Sharma

विकास : सुरेन्द्र शर्मा एक कमरा था जिसमें मैं रहता था माँ-बाप के संग घर बड़ा था इसलिए इस कमी

Read more

Gita Gyan aur Hariyana : Arun Gemini

गीता ज्ञान और हरियाणा : अरुण जैमिनी Krishna जी ने Gita का ज्ञान Hariyana में ही दिया इसलिये हरियाणे वालों ने ही उसे

Read more

Zarurat Kya Thi : Hullad Moradabadi

ज़रूरत क्या थी : हुल्लड़ मुरादाबादी आइना उनको दिखाने की ज़रूरत क्या थी वो हैं बन्दर ये बताने की ज़रूरत

Read more

PAKISTAN ka Bomb : Shrad Joshi

पाकिस्तान का बम : शरद जोशी सुना है हमारे पाक पड़ोसी पाकिस्तान ने एक अदद एटम बम बना लिया है।

Read more

Kavi

आत्मा के सौंदर्य का, शब्द रूप है काव्य मानव होना भाग्य है, कवि होना सौभाग्य –Gopaldas Niraj कविता करना खेल

Read more

Roz peene ka bahana chahiye : Hullad Moradabadi

रोज़ पीने का बहाना चाहिए : हुल्लड़ मुरादाबादी हौसलों हो आज़ामाना चाहिए मुश्किलों में मुस्कुराना चाहिए खुजलियाँ जब सात दिन

Read more

Kya Karegi Chandni : Hullad Muradabadi

क्या करेगी चांदनी : हुल्लड़ मुरादाबादी चांद औरों पर मरेगा, क्या करेगी चांदनी प्यार में पंगा करेगा, क्या करेगी चांदनी

Read more

Khoon Bolta Hai : Arun Gemini

ख़ून बोलता है : अरुण जैमिनी सीमा पर जैसे ही छिड़ी लड़ाई देशभक्ति की भावना सब में उमड़ आई कुर्बानी

Read more

Jaago Phir Ek baar : Suryakant Tripathi Nirala

जागो फिर एक बार : सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ जागो फिर एक बार! समर अमर कर प्राण गान गाये महासिन्धु से

Read more

Ek Swar Mera Mila Lo : Sohanlal Dwivedi

एक स्वर मेरा मिला लो : सोहनलाल द्विवेदी वंदना के इन स्वरों में एक स्वर मेरा मिला लो! राग में

Read more

Kyon Pyar Kiya Tha : Harivansh Rai Bachchan

क्यों प्यार किया था : हरिवंश राय बच्चन अर्द्धरात्रि में सहसा उठ कर पलक संपुटों में मदिरा भर तुमने क्यों

Read more

Agnipath : Harivansh Rai Bachchan

अग्निपथ : हरिवंश राय बच्चन अग्निपथ! अग्निपथ! अग्निपथ! वृक्ष हों भले खड़े हों घने, हों बड़े एक पत्र छाँह भी मांग

Read more

Jeewan Ki Aapa-Dhapi mein : Hari Vansh Rai Bachchan

जीवन की आपाधापी में : हरिवंश राय बच्चन जीवन की आपाधापी में कब वक़्त मिला कुछ देर कहीं पर बैठ

Read more